अमेरिका मे शादी सावधानी बरतें…

आज हर माता -पिता का सपना है की, उनकी बेटी के शादी अमेरिका मे बसे युवक से हो! सही भी है! क्योंकि, बेटी के भविष्य को उज्जवल देखना   कोई ग़लत बात नही है ! पर विदेशी युवक को देखकर सब ये भूल जाते है की, सामने की चमक धमक के पीछे की स्च्चाई क्या है ?  बेटी के सुख के खातिर ही सही एक बार पूरी छान – बिन कर लेनी चाहिए,क्योंकि शादी पूरी ज़िंदगी के बात होती है, ना की कुछ पलों की!  आप जिस विदेश से आए लड़के को देखने जाते है, वो मात्र दस- पंद्रह दिनों के लिए देश आते है, और कुछ ही दिनो मे कई लड़कियाँ देखते है! सुबह – दोपहर – शाम, इसी बीच किसी एक को पसंद कर लेते है, हम बेटी वाले भी सोचते है की हमरी किस्मत कितनी अच्छी है हमारी बिटिया को विदेश का लड़का मिला! लड़के के माता-पिता से मिल ही चुके रहते है, कुण्डलियां भी मिलवा ली होती है, योग्यता तो पता ही है !

सावधान यही, हम धोखा खा जाते है ! सामने सब अच्छा दिखना ही पर्याप्त नही है ! कई लड़के माता-पिता के दबाव मे, तो कई दहेज के नाम पर, तो कई केवल घर चलने के नाम पर शादी करते है! विदेश मे वो क्या कर रहे है किसी को नही पता होता है ! काई लोग यह सोचते है कि शादी के बाद सब ठीक हो जाएगा ! पर आपको ये पता होना चाहिए की , विदेशों मे काई लड़कियों के साथ संबंध रखना , शराब पीना आम बात है ! हमारे देश मे भले ही यह अभी मेट्रो तक है पर वहाँ ये बहुत मामूली बात है ! यह बात काई बार लड़के के माता – पिता को पता होती है काई बार नही ! पर दोनो ही इस्थितियों मे परेशानी आपकी बेटी को होगी ! विदेश मे उसकी सुनने वाला कोई नही, आपको फोन पर या नेट पर वो क्या और कितना बताएगी? हम यही सोच कर खुश हो जाते है की ,वहाँ वो स्वतन्त्र है, कार चलती है, घूमती है ! किंतु कई बार केवल इतना ही पर्याप्ता नही होता,खास तौर से अगर उसने अपने मायके मे ये सब ना देखा हो,उसके मायके मे मर्यादाये हो?

विदेशों मे शादी के बाद भी इस तरह के रिशते चलते रहते है ! लड़की के विरोध करने पर उसे डाइवोर्स के लिए धमकाया जाता है ! या तो वह यह सब चुपचाप सहे या क़ानूनी लड़ाई लड़े ! ये दोनो को ही हमरे समाज़ मे बुरा माना जाता है , ख़ासतौर से लड़की के लिए ! यहा विदेशो मे भारतीय लड़के इसलिए शादी नही करते , क्योंकि उन्हे पता होता है की अगर किसी विदेशि लड़की से शादी करो तो, डाइवोर्स के समय लड़के हर चीज़ का आधा हिस्सा लड़की को देना होता है ! फिर चाहे वह तंखा हो, घर हो, बॅंक बॅलेन्स हो , बच्चो का पूरा खर्चा हो सब लड़के को देना होता है ! जबकि हमारे यहा लड़की को भारण -पोषण के नाम पर केवल ३,४ हज़ार रु महीना देना होता है ! बदनामी का टोकरा भी लड़की के सर पे रख दिया जाता है की,लड़की चरित्रहीं थी , या बुरी बहू थी ! दोनों ही मामलों मे लड़का एकदम साफ बच कर निकल जाता है ! इसलिए कई लड़के यह सोचते है की , देश मे शादी करो , यदि नही जमी तो तलाक़ दे देंगे , हमारे यहाँ तो ज़्यादा कुच्छ देना भी नही पड़ता है ! और दहेज़ मे भी मोटी रकम मिलती है !

अफ़सोस् तो तब होता है जब लड़के माता पिता और परिवार वाले भी यह बात जानते है, फिर भी चुप रहकर किसी और लड़की की ज़िंदगी खराब होने देते है ! काई बार अगर कोई रिशतेदार बताना भी चाहते है, तो हम लड़की वाले इतने खुश रहते है की इस और ध्यान ही नही देते ! या लोग कह देते है की वो लड़के की शादी नही होने देना चाहते, इसलिए कई बार बाकी लोग चुप रहते है ! तो अब ये आपकी ज़िम्मेदारी है की, आप ये पूरी जानकारी ले की कही, आपकी बेटी ग़लत जगह ना फँस जावे !

मैं ये नही कह रही की, सारे ही लड़के खराब होते है , पर हाँ, ” आपकी बेटी आपकी अपनी है, उसके जीवन को खुशहाल बनाने का जितना हक आपका है, उतना यह कर्तव्य भी है की, यह तहकीकात पूरी तरह कर ले की , कही कोई गड़बड़ तो नही? आख़िर सावधानी बरतने मे क्या हर्ज़ है ?” आख़िर यह केवल २-४ दिनो की चका- चोंध का सवाल नही है ! और ये भी ध्यान रखिए की जो रिशतेदार किसी भी शादी मे आते है, मज़ा करते है, बात बिगड़ने पर वी ही सबसे पहले उंगली उठाते है ! कही आपको तो कही बेटी को बुरा कहेंगे ! तो अच्छा है आप ही सावधानी बरते ! आख़िर ये आपकी बेटी की ज़िंदगी का सवाल है !

Advertisements
Published in: on जून 11, 2008 at 1:29 पूर्वाह्न  टिप्पणी बन्द अमेरिका मे शादी सावधानी बरतें… में  
Tags: ,
%d bloggers like this: